Download Our App

Follow us

Home » भारत » विपक्ष के सदन से वॉकआउट के बाद सभापति जगदीप धनखड़ ने कहा, उन्होंने मुझे नहीं भारत के संविधान को पीठ दिखाई है

विपक्ष के सदन से वॉकआउट के बाद सभापति जगदीप धनखड़ ने कहा, उन्होंने मुझे नहीं भारत के संविधान को पीठ दिखाई है

नई दिल्ली: भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर जवाब दे रहे हैं. पीएम ने कहा- 60 साल के बाद ऐसा हुआ है कि 2 बार के बाद कोई एक सरकार की वापसी हुई है. यह घटना असामान्य है. कुछ लोग हैं जो जानबूझकर उससे अपना मुंह फेरकर बैठे रहे.

उन्होंने कहा, कुछ लोगों को समझ ही नहीं आया. जिसे समझ आया उन लोगों ऐसा हो हल्ला किया कि देश की जनता के फैसले को ब्लैकआउट करने की कोशिश की. मैं दो दिन से लगातार देख रहा हूं कि आखिर में उन्हें पराजय भी स्वीकार हो रही है और हमारी विजय भी.

उन्होंने मुझे नहीं भारत के संविधान को पीठ दिखाई है

प्रधानमंत्री के पूरे भाषण के दौरान विपक्ष हंगमा करता रहा. 32 मिनट के भाषण के बाद विपक्ष ने सदन से वॉकआउट कर लिया. इस बात से सभापति जगदीप धनखड़ ने नाराजगी जताई.

जगदीप धनखड़ ने कहा, “ये निंदनीय है. उन्होंने मुझे नहीं भारत के संविधान को पीठ दिखाई है. भारत के संविधान का इससे बड़ा अपमान नहीं हो सकता है. As House of elders हमे देश का मार्गदर्शन करना है. मैं उनके आचरण की भर्तसना करता हूं.”

 

यह भी पढ़ें-  Mirzapur 3 होने वाला है रिलीज, नहीं होंगे ये कलाकार, अब तक हो चुकी है इतने कलाकारों की छुट्टी

 

 

RELATED LATEST NEWS