Download Our App

Follow us

Home » राजनीति » सीएम योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ में किया जनता दर्शन, सुनीं लोगों की शिकायतें

सीएम योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ में किया जनता दर्शन, सुनीं लोगों की शिकायतें

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज अपने सरकारी आवास पर ‘जनता दर्शन’ किया, जहां उन्होंने सैकड़ों फरियादियों की शिकायतें सुनीं.

सबसे अधिक शिकायतें शाहजहाँपुर से आईं, जो मुख्य रूप से भूमि अतिक्रमण और भूमि माप में देरी से संबंधित थीं, जिससे मुख्यमंत्री परेशान थे.

सीएम ने तुरंत कार्रवाई कर तीन दिन के अंदर रिपोर्ट मांगा

योगी ने फरियादियों की बात सुनी और एक-एक कर उनके पास पहुंचे और उन्हें धैर्यपूर्वक सुना. याचिकाकर्ताओं ने लेखपालों व कानूनगो की लापरवाही की भी शिकायत की. जवाब में सीएम ने तुरंत जिलाधिकारी को कार्रवाई कर तीन दिन के अंदर रिपोर्ट देने का निर्देश दिया.

आगरा और कानपुर से भी ऐसे ही मामले सामने आए. सभी याचिकाकर्ताओं को आश्वासन दिया गया कि त्वरित कार्रवाई की जाएगी और चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है.

आर्थिक तंगी के कारण इलाज में बाधा नहीं आएगी- योगी

पैसों की कमी के कारण इलाज में आ रही दिक्कतों को लेकर एक महिला ने सीएम से गुहार लगाई. आयुष्मान कार्ड होने के बावजूद उन्हें इलाज के लिए ज्यादा पैसों की जरूरत थी. योगी ने उन्हें आश्वासन दिया कि आर्थिक तंगी के कारण उनके इलाज में बाधा नहीं आएगी.

केजीएमयू कुलपति को मामले की जानकारी दी गई और उचित कार्रवाई के निर्देश दिए गए. इसके अतिरिक्त, उन्नाव की एक सहायक अध्यापिका ने अपनी शिकायत में बताया कि उनका बच्चा बहुत बीमार था और उसका इलाज लखनऊ में चल रहा था लेकिन उनके पति बाहर थे. लखनऊ स्थानांतरण के अनुरोध पर योगी ने उन्हें आश्वासन दिया कि उचित कार्रवाई की जाएगी.

किसी भी रूप में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी

सीएम द्वारा सभी संबंधित अधिकारियों को जिला स्तर पर शिकायतकर्ताओं की शिकायतों को प्राथमिकता के आधार पर संबोधित करने के निर्देश भेजे गए थे. उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि किसी भी रूप में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

भूमि अतिक्रमण के मामलों के संबंध में योगी ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि पीड़ितों की बात सुनी जाए. आगे उन्होंने कहा कि कानून तोड़ने वालों को किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

 

ये भी पढ़ें-  विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के सदस्यों ने ओवैसी की जय फिलिस्तीन टिप्पणी के खिलाफ प्रदर्शन किया

 

RELATED LATEST NEWS