Download Our App

Follow us

Home » Uncategorized » हिंसा और आगजनी के बाद उत्तराखंड के हल्द्वानी में लगा कर्फ्यू

हिंसा और आगजनी के बाद उत्तराखंड के हल्द्वानी में लगा कर्फ्यू

भारी हिंसा और आगजनी  के बाद उत्तराखंड के हल्द्वानी शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया है। प्रशासन द्वारा उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने का आदेश दिया गया है। हल्द्वानी में गुरुवार को मदरसा और नमाज स्थल पर अतिक्रमण तोड़ने पहुंची टीम पर पथराव के बाद उपद्रवियों ने जमकर आगजनी की। हिंसा में कुछ लोगों की मौत हो गई तथा 300 से ज्यादा लोग जख्मी है। प्रशासन के द्वारा दो लोगो की मृत्यु की पुष्टि की गई है।

Haldwani is on fire

वनभूलपुरा के मलिक का बगीचा क्षेत्र की नजूल भूमि पर अतिक्रमण किया गया है। कोर्ट के आदेश पर पिछले दिनों नगर निगम की टीम ने अभियान शुरू किया था। इस दौरान क्षेत्र में बने भवनों को तोड़ा गया। अतिक्रमण हटाने के दौरान मदरसा और नमाज स्थल के भी नजूल भूमि में होने पर निगम ने दोनों को तोड़ने के लिए कार्यवाही शुरू की थी। मदरसा व नमाज स्थल को सील कर दिया गया था। गुरुवार को प्रशासन और नगर निगम की टीम भारी पुरुष बल के साथ मौके से अतिक्रमण हटाने पहुंची थी। इस दौरान क्षेत्र में तनाव फैल गया। अतिक्रमण हटाने गई टीम पर पथराव कर दिया गया।
पुलिस ने लाठी चार्ज करके भीड़ को तीतर बितर  की कोशिश की लेकिन हालात बेकाबू होते चले गए। एक दर्जन से अधिक वाहनों को आग  के हवाले कर दिया गया। दंगाईयो  ने थाने को भी फूंक दिया।

नैनीताल की डीएम वंदना सिंह ने बताया कि कोर्ट के आदेश पर नगर निगम 15-20 दिनों से अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चला रहा था। जिस ढांचे को गिरने पर हिंसा की गई वह अवैध था और किसी धार्मिक स्थल के तौर पर पंजीकृत नहीं था। थाने पर भीड़ ने हमला किया और पेट्रोल बम फेंका। डीएम वंदना सिंह ने कहा कि हिंसा में अब तक दो लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। उन्होंने बताया कि दो शवों के दो अस्पताल में पहुंचने और दोनों जगह गिनती हो जाने की वजह से चार मौतों  की सूचना आई थी। लेकिन बाद में तथ्यों की पुष्टि हो जाने पर पता चला कि दो लोगों की ही मृत्यु हुई है।

हल्द्वानी में राज्य के कई बड़े अधिकारी पहुंचे हैं। मुख्य सचिव, डीजीपी और डीजी लॉ एंड ऑर्डर को हल्द्वानी भेजा गया है। उपद्रवियों के खिलाफ पुलिस ने त्वरित कार्यवाही शुरु कर दी है। कई लोगों को हिरासत में लिए जाने की सूचना है। सुरक्षा को देखते हुए शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया है और उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने का आदेश दे दिया गया है।

गुरुवार को अवैध मदरसा और मस्जिद के नाम पर किए गए। अतिक्रमण को तोड़ने पहुंची टीम पर पथराव के बाद उपद्रवियों ने जमकर आगजनी की। दर्जनों वाहनों को फूंक डाला गया। इस हिंसा में कई पुलिसकर्मी घायल हो गए। मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने हाई लेवल मीटिंग की है और उपद्रवियों से शक्ति से निपटने को कहा है।

https://x.com/PTI_News/status/1755604407352476082?s=20

सौजन्य से : पी टी आई

RELATED LATEST NEWS