Download Our App

Follow us

Home » चुनाव » दिल्ली के मुख्यमंत्री ने पेश की ’10 केजरीवाल गारंटी’, मुफ्त शिक्षा, बेहतर स्वास्थ्य सेवा का वादा

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने पेश की ’10 केजरीवाल गारंटी’, मुफ्त शिक्षा, बेहतर स्वास्थ्य सेवा का वादा

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया और वादों के बारे में विस्तार से बताया, जिसे उन्होंने ‘केजरीवाल गारंटी’ कहा. 25 मई को दिल्ली में छठे चरण के चुनाव से पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री ने ’10 केजरीवाल गारंटी’ पेश कीं.

प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा, “आज हम लोकसभा चुनाव के लिए केजरीवाल की 10 गारंटी की घोषणा करने जा रहे हैं. मेरी गिरफ्तारी के कारण इसमें देरी हुई लेकिन अभी भी कई चरण के चुनाव बाकी हैं. मैंने इस पर चर्चा नहीं की है. यह एक गारंटी की तरह है जिससे बाकी INDIA गठबंधन में किसी को कोई समस्या नहीं होगी. मैं यह गारंटी लेता हूं कि भारत गठबंधन के सत्ता में आने के बाद, मैं यह सुनिश्चित करूंगा कि केजरीवाल की गारंटी लागू हो.”

उन्होंने आगे कहा, “ये 10 गारंटी भारत के दृष्टिकोण की तरह हैं. कुछ चीजें हैं जो पिछले 75 वर्षों में पूरी हो जानी चाहिए थीं. ये चीजें किसी भी राष्ट्र की आधारशिला रखने जैसी हैं. इनके बिना राष्ट्र नहीं बन सकता.” आगे बढ़ें. अगले पांच साल में वो काम पूरे हो जायेंगे.”

गारंटी के बारे में विस्तार से बताते हुए, दिल्ली के मुख्यमंत्री ने सत्ता में आने पर देश के सभी गरीबों को 200 यूनिट तक मुफ्त बिजली प्रदान करने की घोषणा की. उन्होंने कहा, ”10 गारंटी में से पहली गारंटी यह है कि हम देश में 24 घंटे बिजली उपलब्ध कराएंगे. देश में तीन लाख मेगावाट बिजली पैदा करने की क्षमता है लेकिन उपयोग केवल दो लाख मेगावाट है. हमारा देश ऐसा कर सकता है.” मांग से अधिक बिजली का उत्पादन हमने दिल्ली और पंजाब में किया है, हम देश में भी करेंगे क्योंकि हमारे पास अनुभव है हम सभी गरीबों को 200 यूनिट तक मुफ्त बिजली देंगे. इसकी लागत 1.25 लाख रुपये होगी करोड़, हम इसकी व्यवस्था कर सकते हैं…”

दूसरी गारंटी मुफ्त शिक्षा मुहैया कराने की है. केजरीवाल ने आंकड़े पेश करते हुए कहा, “दूसरी गारंटी शिक्षा की है. 10 लाख सरकारी स्कूलों में करीब 18 करोड़ छात्र पढ़ते हैं जिनका कोई भविष्य नहीं है. आज हमारे सरकारी स्कूलों की हालत अच्छी नहीं है. हमारी दूसरी गारंटी है कि हम व्यवस्था करेंगे हर किसी के लिए अच्छी और उत्कृष्ट मुफ्त शिक्षा, चाहे वह गरीब परिवार का बच्चा हो या अमीर परिवार का.”

उन्होंने आगे कहा, “सरकारी स्कूल निजी स्कूलों से बेहतर शिक्षा देंगे. हमने दिल्ली और पंजाब में यह किया है. यह काम आजादी के समय ही हो जाना चाहिए था. इसके लिए 5 लाख करोड़ रुपये की जरूरत होगी. राज्य सरकारें इसके लिए 2.5 लाख करोड़ रुपये देगी और 2.5 करोड़ रुपये केंद्र सरकार देगी.”

अरविंद केजरीवाल की तीसरी गारंटी बेहतर स्वास्थ्य सेवा मुहैया कराना है. तीसरी गारंटी के बारे में बताते हुए केजरीवाल ने कहा, “आज हमारे देश में सरकारी अस्पताल की हालत अच्छी नहीं है. हमारी तीसरी गारंटी है बेहतर स्वास्थ्य सेवा. हम सभी के लिए अच्छे इलाज की व्यवस्था करेंगे. हर गांव, हर इलाका में मोहल्ला क्लीनिक खोले जाएंगे.”

दिल्ली के सीएम ने यह भी दावा किया कि देश के हर नागरिक को मुफ्त इलाज मिलेगा. “जिला अस्पताल को मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल में बदल दिया जाएगा. इस देश में जन्मे हर व्यक्ति को मुफ्त इलाज मिलेगा. बीमा के आधार पर इलाज नहीं किया जाएगा क्योंकि यह एक बड़ा घोटाला है. हम बुनियादी ढांचा तैयार करेंगे. 5 लाख करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे. स्वास्थ्य देखभाल पर राज्य सरकार 2.5 लाख करोड़ रुपये और केंद्र सरकार 2.5 लाख करोड़ रुपये खर्च करेगी.”

केजरीवाल की लिस्ट में चौथी गारंटी है ‘नेशन फर्स्ट’. उन्होंने दावा किया कि चीन द्वारा कब्जा की गई जमीन को मुक्त कराया जाएगा और कहा, “हमारी चौथी गारंटी ‘राष्ट्र पहले’ है. चीन ने हमारी जमीन पर कब्जा कर लिया है लेकिन हमारी केंद्र सरकार इससे इनकार कर रही है. हमारी सेना में बहुत ताकत है. चीन ने देश की जिस जमीन पर कब्जा कर लिया है, उसे मुक्त कराया जाएगा. इसके लिए जहां एक ओर कूटनीतिक स्तर पर प्रयास किए जाएंगे, वहीं सेना को इस संबंध में जो भी कदम उठाना हो, उसे उठाने की पूरी छूट दी जाएगी.”

दिल्ली के सीएम ने अग्निवीर योजना पर भी निशाना साधा और कहा, “अग्निवीर जैसी योजना सेना के लिए हानिकारक है और युवा भी इससे परेशान हैं. अग्निवीर योजना वापस ली जाएगी.”

आम आदमी पार्टी ने अपने आधिकारिक एक्स हैंडल पर अन्य गारंटी के बारे में पोस्ट किया. इन गारंटियों में वे सैनिक भी शामिल हैं जिनके लिए अग्निवीर योजना बंद कर दी जाएगी और सभी सैन्य भर्तियां पुरानी प्रक्रिया के अनुसार की जाएंगी. अब तक भर्ती हुए सभी फायर वॉरियर्स को स्थायी किया जाएगा.

देश के किसानों के लिए पार्टी ने वादा किया कि स्वामीनाथन आयोग के अनुसार सभी फसलों पर एमएसपी का निर्धारण कर किसानों को उनकी फसलों का पूरा दाम दिलाया जाएगा. आप ने दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने का भी संकल्प लिया.

बेरोजगारी पर आप ने कहा कि योजनाबद्ध तरीके से बेरोजगारी दूर की जाएगी और वादा किया कि अगले एक साल में दो करोड़ नौकरियां पैदा की जाएंगी.

नौवीं गारंटी भ्रष्टाचार को पूरा करती है जिसमें पार्टी ने कहा कि ईमानदार लोगों को जेल भेजने और भ्रष्टाचारियों को संरक्षण देने की मौजूदा व्यवस्था को खत्म कर दिया जाएगा.

दसवीं और आखिरी गारंटी कारोबार से जुड़ी है जिसमें आम आदमी पार्टी ने कहा कि जीएसटी खत्म हो जाएगा. उन्होंने कहा कि जीएसटी को पीएमएलए (धन शोधन निवारण अधिनियम) से बाहर निकाला जाएगा और बड़े पैमाने पर व्यापार और उद्योग को बढ़ावा देने के लिए सभी कानूनों और प्रशासनिक प्रणालियों को सरल बनाया जाएगा.

 

ये भी पढ़ें-OBC आरक्षण लागू होते ही संसद घेरने पहुंचे 10 हजार स्टूडेंट, 65 ने दी जान

 

Shree Om Singh
Author: Shree Om Singh

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS