Download Our App

Follow us

Home » अपराध » दिल्ली शराब घोटाला मामला: अरविंद केजरीवाल को सुप्रीम कोर्ट से राहत नहीं, बुधवार को होगी सुनवाई

दिल्ली शराब घोटाला मामला: अरविंद केजरीवाल को सुप्रीम कोर्ट से राहत नहीं, बुधवार को होगी सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को होगी सुनवाई

दिल्ली शराब घोटाला मामले में तिहाड़ जेल में बंद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को सुप्रीम कोर्ट से सोमवार को कोई राहत नहीं मिली। उनकी जल्द रिहाई की मांग वाली याचिका पर अब बुधवार को सुनवाई होगी। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि बुधवार को इस मामले को सुनते हैं, और हाई कोर्ट का ऑर्डर आए तो उसे रिकॉर्ड पर लिया जाएगा।

हाई कोर्ट के आदेश को चुनौती
केजरीवाल ने दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा उनकी रिहाई पर अंतरिम रोक लगाने के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। उनकी अर्जी में कहा गया है कि हाईकोर्ट ने स्थापित कानूनी प्रक्रिया और परंपरा की अनदेखी करते हुए जमानत आदेश पर रोक लगाई है। यह न्याय और देश में स्थापित जमानत के बुनियादी सिद्धांतों का भी उल्लंघन है।

राजनीतिक भेदभाव का आरोप
अरविंद केजरीवाल की याचिका में राजनीतिक हवाले से भी कहा गया है कि केंद्र में सत्तारूढ़ पार्टी का आलोचक होने की वजह से उन्हें प्रवर्तन निदेशालय (ED) की नाराजगी और भेदभावपूर्ण प्रक्रिया का शिकार होना पड़ा है। उन्होंने कहा कि हाई कोर्ट ने ED की अर्जी पर उनकी जमानत पर रोक लगाई है, जिससे उनके न्याय के अधिकार का उल्लंघन हुआ है।

राउज एवेन्यू कोर्ट ने दी थी जमानत
दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने शराब घोटाले से जुड़े धनशोधन मामले में अरविंद केजरीवाल को गुरुवार को जमानत दे दी थी। विशेष न्यायाधीश न्याय बिंदु ने केजरीवाल के जमानत आदेश पर 48 घंटे के लिए रोक लगाने का ED के आग्रह को भी खारिज कर दिया था। ईडी 48 घंटे की रोक के दौरान ऊपरी अदालत में जा सकती थी। विशेष न्यायाधीश ने एक लाख रुपये के निजी मुचलके पर केजरीवाल को रिहा करने का आदेश दिया था। अदालत ने साथ ही आप नेता पर कई शर्तें भी लगाई थीं, जिनमें यह भी शामिल था कि वह जांच को बाधित करने या गवाहों को प्रभावित करने की कोशिश नहीं करेंगे।

हाई कोर्ट का स्टे ऑर्डर
शुक्रवार को प्रवर्तन निदेशालय ने दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया। इसी दौरान चली सुनवाई में स्थानीय कोर्ट के आदेश पर दिल्ली हाईकोर्ट ने स्टे लगा दिया और अरविंद केजरीवाल की जमानत पर खतरा मंडराने लगा। ऐसे में केजरीवाल के वकीलों ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। उन्होंने मांग की थी कि केजरीवाल की जमानत याचिका पर सोमवार को सुनवाई की जाए।

ED और केजरीवाल के वकील देंगे लिखित दलीलें
दिल्ली हाई कोर्ट में आज ED और केजरीवाल के वकील लिखित दलीलें जमा करेंगे। दिल्ली हाई कोर्ट ने फिलहाल केजरीवाल की रिहाई के निचली अदालत के आदेश पर रोक लगाई हुई है।

अगली सुनवाई का इंतजार
अब सभी की निगाहें बुधवार को होने वाली सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई पर टिकी हैं। अरविंद केजरीवाल की रिहाई को लेकर उनके वकीलों ने पूरी तैयारी कर ली है और उम्मीद है कि सुप्रीम कोर्ट इस मामले में निष्पक्ष और न्यायपूर्ण निर्णय लेगा। अरविंद केजरीवाल दिल्ली शराब घोटाला मामले में तिहाड़ जेल में बंद हैं और उनकी रिहाई का रास्ता सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर निर्भर करेगा।

RELATED LATEST NEWS