Download Our App

Follow us

Home » खेल » टी20 वर्ल्ड कप 2024: भारतीय टीम की शानदार जीत के पांच अहम मोमेंट्स

टी20 वर्ल्ड कप 2024: भारतीय टीम की शानदार जीत के पांच अहम मोमेंट्स

29 जून को बारबाडोस के केनिंग्सटन ओवल मैदान पर भारतीय टीम ने साउथ अफ्रीका को 7 रनों से हराकर टी20 वर्ल्ड कप 2024 का खिताब अपने नाम किया। इस ऐतिहासिक जीत ने 13 साल से चले आ रहे आईसीसी ट्रॉफी जीतने के सूखे को भी खत्म कर दिया। आइए जानते हैं उन पांच अहम मोमेंट्स के बारे में जिन्होंने भारतीय टीम को इस जीत तक पहुँचाया।

कोहली के बल्ले से निकले 76 रनों की शानदार पारी
टी20 वर्ल्ड कप 2024 के फाइनल मुकाबले में विराट कोहली ने 59 गेंदों में 76 रनों की पारी खेली, जिसमें 6 चौके और 2 छक्के शामिल थे। कोहली का बल्ला पूरे टूर्नामेंट में खामोश था, लेकिन फाइनल में उन्होंने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करते हुए खुद को बड़े मैच का खिलाड़ी साबित किया। जब भारतीय टीम ने पहले 6 ओवर्स में ही रोहित शर्मा, ऋषभ पंत और सूर्यकुमार यादव के विकेट गंवा दिए थे, तब कोहली ने एक छोर से पारी को संभाला और टीम को बड़े स्कोर तक पहुँचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

कोहली-अक्षर की साझेदारी ने बढ़ाया आत्मविश्वास
34 के स्कोर पर 3 विकेट गंवाने के बाद भारतीय टीम पर अफ्रीकी गेंदबाजों ने दबाव बना दिया था। इस स्थिति में अक्षर पटेल को बल्लेबाजी के लिए भेजने का फैसला टीम मैनेजमेंट का सही साबित हुआ। अक्षर ने विराट कोहली के साथ 54 गेंदों में 72 रनों की साझेदारी की, जिसमें उन्होंने 4 छक्के और एक चौका लगाया। अक्षर की 47 रनों की पारी ने भारतीय टीम को मजबूत स्थिति में ला दिया।

जसप्रीत बुमराह की सटीक गेंदबाजी
साउथ अफ्रीका की टीम ने 15 ओवर्स में 4 विकेट के नुकसान पर 147 रन बना लिए थे और उन्हें जीत के लिए 30 रनों की दरकार थी। ऐसे में जसप्रीत बुमराह ने अपनी सटीक गेंदबाजी से मैच का रुख पलट दिया। बुमराह ने 16वें ओवर में सिर्फ 4 रन दिए और 18वें ओवर में सिर्फ 2 रन देकर मार्को यानसन का विकेट हासिल किया। बुमराह की गेंदबाजी ने भारतीय टीम की जीत की राह को आसान बना दिया।

हार्दिक पांड्या का निर्णायक प्रदर्शन
हार्दिक पांड्या ने 17वें ओवर में हेनरिक क्लासेन का महत्वपूर्ण विकेट लिया, जो 27 गेंदों में 52 रन बनाकर खेल रहे थे। इस ओवर में हार्दिक ने सिर्फ 4 रन दिए और अफ्रीकी टीम पर दबाव बढ़ा दिया। इसके बाद, आखिरी ओवर में जब साउथ अफ्रीका को 16 रनों की आवश्यकता थी, हार्दिक ने केवल 8 रन देकर भारतीय टीम को जीत दिलाई। हार्दिक ने 3 ओवर्स में 20 रन देकर 3 विकेट लिए।

सूर्यकुमार यादव का अद्भुत कैच
सूर्यकुमार यादव ने फाइनल मुकाबले में बल्ले से भले ही निराश किया हो, लेकिन उन्होंने एक ऐसा कैच पकड़ा जिसने मैच का परिणाम तय कर दिया। पारी के आखिरी ओवर में जब साउथ अफ्रीका को जीत के लिए 16 रनों की जरूरत थी, डेविड मिलर ने लॉन्ग ऑफ की तरफ ऊंचा शॉट मारा। सभी को लगा कि यह छक्का हो जाएगा, लेकिन सूर्यकुमार ने बाउंड्री पर अपनी फुर्ती से गेंद को पकड़ा और उसे अंदर की तरफ हवा में उछालकर खुद बाउंड्री से बाहर जाने के बाद कैच पूरा किया। इस कैच ने सभी को 1983 वर्ल्ड कप फाइनल के कपिल देव के कैच की याद दिला दी और टीम इंडिया की जीत को पक्का कर दिया।

RELATED LATEST NEWS