Download Our App

Follow us

Home » राजनीति » कांग्रेस के ट्वीट पर भड़के जॉर्ज कुरियन

कांग्रेस के ट्वीट पर भड़के जॉर्ज कुरियन

पीएम मोदी ने पोप फ्रांसिस को भारत आने का दिया निमंत्रण, केरल कांग्रेस के तंज पर जॉर्ज कुरियन ने किया पलटवार 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी-7 शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए इटली पहुंचे, जहां उनकी मुलाकात पोप फ्रांसिस से हुई। इस ऐतिहासिक मुलाकात के दौरान पीएम मोदी ने पोप फ्रांसिस को गले लगाया और उनकी कुशलक्षेम पूछी। इस मुलाकात की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गईं और लोगों में चर्चा का विषय बन गईं। पोप फ्रांसिस ने भी सम्मेलन में भाग लेते हुए जी-7 के नेताओं को संबोधित किया और ऐसा करने वाले पहले पोप बन गए।

मुलाकात के बाद, पीएम मोदी ने पोप फ्रांसिस को भारत आने का निमंत्रण दिया, जिसकी जानकारी उन्होंने स्वयं सोशल मीडिया पर साझा की। इस सम्मेलन में पीएम मोदी ने अन्य देशों के नेताओं से भी मुलाकात की, जिसकी तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर व्यापक रूप से साझा की गईं।

कांग्रेस का ट्वीट और विवाद

इस बीच, केरल कांग्रेस ने पीएम मोदी और पोप फ्रांसिस की मुलाकात की तस्वीर शेयर करते हुए पीएम मोदी पर निशाना साधा। केरल कांग्रेस के इस ट्वीट ने विवाद को जन्म दिया, जिसमें उन्होंने पीएम मोदी के एक पुराने बयान का संदर्भ लिया था। प्रधानमंत्री मोदी ने एक इंटरव्यू में कहा था, “जब मेरी मां जीवित थीं तब मैं मानता था कि मैं जैविक रूप से पैदा हुआ हूं, लेकिन उनके निधन के बाद मुझे यकीन हो गया कि भगवान ने मुझे भेजा है।”

केरल कांग्रेस ने इस बयान का उपयोग करते हुए पोप फ्रांसिस के साथ पीएम मोदी की तस्वीर पर तंज कसा, जिससे यह मामला और बढ़ गया। कांग्रेस के इस ट्वीट पर कई लोगों ने अपनी प्रतिक्रियाएं दीं, लेकिन सबसे महत्वपूर्ण प्रतिक्रिया जॉर्ज कुरियन की रही।

जॉर्ज कुरियन की प्रतिक्रिया

केरल कांग्रेस के ट्वीट पर जॉर्ज कुरियन ने कड़ी आपत्ति जताई। उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ‘एक्स’ पर लिखा, “कांग्रेस का यह ट्वीट प्रधानमंत्री मोदी की तुलना प्रभु यीशु से करता है। यह बिल्कुल अनावश्यक है और ईसा मसीह का सम्मान करने वाले ईसाई समुदाय का अपमान है। यह शर्मनाक है कि कांग्रेस इस स्तर तक पहुंच गई है।” जॉर्ज कुरियन की इस प्रतिक्रिया ने कांग्रेस के ट्वीट पर नए सिरे से चर्चा छेड़ दी।पोप फ्रांसिस को भारत आने का निमंत्रण

प्रधानमंत्री मोदी ने पोप फ्रांसिस को भारत आने का निमंत्रण दिया, जिससे दोनों देशों के बीच संबंधों को और मजबूती मिलेगी। पोप फ्रांसिस ने पीएम मोदी के निमंत्रण को स्वीकार करते हुए भारत आने की इच्छा जताई। यह निमंत्रण भारत और वेटिकन सिटी के बीच संबंधों को और प्रगाढ़ बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम माना जा रहा है।

RELATED LATEST NEWS