Download Our App

Follow us

Home » भारत » त्रिपुरा में HIV का कहर: छात्रों पर गहराया संकट

त्रिपुरा में HIV का कहर: छात्रों पर गहराया संकट

HIV एक खतरनाक और संक्रामक बीमारी है, जिसने त्रिपुरा के छात्रों को अपनी चपेट में ले लिया है। त्रिपुरा राज्य एड्स नियंत्रण सोसायटी (TSACS) के हालिया आंकड़ों के अनुसार, राज्य में 828 छात्र HIV पॉजिटिव पाए गए हैं, जिनमें से 47 छात्रों की मौत हो चुकी है और 572 छात्र अभी भी इस गंभीर बीमारी से जूझ रहे हैं। ये आंकड़े TSACS के संयुक्त निदेशक सुभ्रजीत भट्टाचार्य ने त्रिपुरा पत्रकार यूनियन, वेब मीडिया फोरम और TSACS द्वारा आयोजित एक वर्कशॉप में प्रस्तुत किए।

प्रभावित छात्रों की संख्या और नशे की लत

HIV के इन आंकड़ों से पता चलता है कि राज्य में हर रोज 5-7 नए मामले सामने आ रहे हैं। खासतौर पर चिंताजनक यह है कि HIV से पीड़ित त्रिपुरा के कई छात्र देश के विभिन्न राज्यों की यूनिवर्सिटी या बड़े कॉलेजों में पढ़ाई कर रहे हैं। TSACS ने राज्य के 220 स्कूल, 24 कॉलेज और यूनिवर्सिटियों के ऐसे छात्रों की पहचान की है, जो नशे के लिए इंजेक्शनों का इस्तेमाल करते हैं। TSACS के संयुक्त निदेशक ने बताया कि उन्होंने ऐसे 220 स्कूल और 24 कॉलेज तथा विश्वविद्यालयों की पहचान की है जहां छात्र नशीली दवाओं के आदी पाए गए हैं।

HIV संक्रमितों की कुल संख्या

TSACS के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मई 2024 तक ART- एंटीरेट्रोवाइरल थेरेपी केंद्रों में 8,729 लोगों को रजिस्टर्ड किया गया। इनमें HIV से पीड़ित लोगों की कुल संख्या 5,674 है, जिसमें 4,570 पुरुष, 1,103 महिलाएं और केवल एक मरीज ट्रांसजेंडर है।

अमीर परिवारों के बच्चे अधिक प्रभावित

HIV मामलों में वृद्धि के लिए नशीली दवाओं के दुरुपयोग को जिम्मेदार ठहराते हुए TSACS ने बताया कि ज्यादातर मामलों में संपन्न परिवारों के बच्चे HIV से संक्रमित पाए गए हैं। इन आंकड़ों में ऐसे भी परिवार शामिल हैं जहां माता-पिता दोनों ही सरकारी नौकरी में हैं और बच्चों की सभी मांगें पूरी करते हैं। अक्सर, जब तक उन्हें पता चलता है कि उनके बच्चे नशे के आदी हो गए हैं, तब तक बहुत देर हो चुकी होती है।

HIV के बढ़ते मामलों और नशे के दुरुपयोग की वजह से त्रिपुरा के छात्रों में यह संकट गहराता जा रहा है। इसके लिए जागरूकता और नशे की रोकथाम के उपायों को तेज करना आवश्यक है, ताकि इस महामारी पर काबू पाया जा सके और छात्रों का भविष्य सुरक्षित किया जा सके।

अधिक जानने के लिए देखें:

 

RELATED LATEST NEWS

Top Headlines

लौट आई जैस्मिन भसीन की आंखों की रोशनी, आंखों से उतरी पट्टी, बराबर देख पा रही एक्ट्रेस

टीवी एक्ट्रेस जैस्मिन भसीन (Jasmine Bhasin) के लिए पिछले कुछ दिन काफी मुश्किल रहे। कॉन्टैक्ट लैंस की वजह से एक्ट्रेस

Live Cricket