Download Our App

Follow us

Home » दुनिया » इजराइल-हमास संघर्ष: बेंजामिन नेतन्याहू के खिलाफ विरोध प्रदर्शन

इजराइल-हमास संघर्ष: बेंजामिन नेतन्याहू के खिलाफ विरोध प्रदर्शन


इजराइल में विरोध प्रदर्शन
इजराइल और हमास के बीच जारी संघर्ष के नौ महीने पूरे होने पर इजराइल में विरोध प्रदर्शन तेज हो गए हैं। देशभर में प्रदर्शनकारियों ने राजमार्गों और रेलवे स्टेशनों को अवरुद्ध कर दिया। ये प्रदर्शनकारी प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू से पद छोड़ने की मांग कर रहे हैं और संघर्ष विराम का आह्वान कर रहे हैं ताकि हमास द्वारा बंधक बनाए गए लोगों को वापस लाया जा सके। प्रदर्शनकारियों ने इजराइल की संसद के सदस्यों के घरों के बाहर भी विरोध जताया, जिससे देश में व्यापक विरोध की लहर देखने को मिली।

गाजा में जारी जंग
दूसरी ओर, गाजा में लड़ाई जारी है। इजराइली हमलों में रविवार तड़के तक 13 फलस्तीनी नागरिकों की मौत हो गई। अल-अक्सा मार्टियर्स अस्पताल के अनुसार, मध्य गाजा के जवैदा कस्बे में एक घर पर हुए हमले में छह फलस्तीनी मारे गए। इसके अलावा, गाजा शहर में एक स्कूल पर हुए हमले में चार लोगों की जान चली गई। इजराइल ने गाजा पट्टी में हमास के ठिकानों को निशाना बनाते हुए कई हवाई हमले किए, जिनमें तीन और लोगों की मौत हो गई। इजराइली सेना ने दावा किया है कि वह हमास आतंकवादियों को निशाना बना रही है और नागरिकों की सुरक्षा के लिए “कई कदम” उठा रही है।

अंतरराष्ट्रीय प्रयास और संभावित संघर्ष विराम
इस बीच, अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थों ने संघर्ष विराम के लिए नए प्रयास शुरू कर दिए हैं। मिस्र और हमास के अधिकारियों ने ‘एसोसिएटेड प्रेस’ से कहा कि हमास ने इजराइल की प्रतिबद्धता की प्रमुख मांग छोड़ दी है, जिससे नवंबर के बाद पहली बार लड़ाई रुकने की संभावना बन रही है। यह संभावित संघर्ष विराम आगे की वार्ता के लिए मंच तैयार कर सकता है और क्षेत्र में शांति की संभावनाओं को बढ़ा सकता है।

हिजबुल्ला का प्रक्षेपास्त्र हमला
लेबनान के आतंकवादी समूह हिजबुल्ला ने भी उत्तरी इजराइल की ओर कई प्रक्षेपास्त्र दागे हैं। इन प्रक्षेपास्त्रों का लक्ष्य सीमा से 30 किलोमीटर (20 मील) से अधिक दूर के क्षेत्र थे। हिजबुल्ला के इस हमले ने इजराइल और उसके पड़ोसी देशों के बीच तनाव को और बढ़ा दिया है।

RELATED LATEST NEWS