Download Our App

Follow us

Home » नशा » कमल हासन ने पीड़ितों को बताया लापरवाह: जहरीली शराब से 57 की गई जान, मौतों पर जताई चिंता

कमल हासन ने पीड़ितों को बताया लापरवाह: जहरीली शराब से 57 की गई जान, मौतों पर जताई चिंता

सुपरस्टार और मक्कल निधि मय्यम (एमएनएम) के नेता कमल हासन ने रविवार को तमिलनाडु के कल्लाकुरिची में जहरीली शराब के पीड़ितों से मुलाकात की। पीड़ितों से मिलने के बाद कमल हासन ने कहा कि शराब पीने में पीड़ितों ने लापरवाही बरती। पीड़ितों को यह समझना चाहिए कि वे अपनी सीमा पार कर लापरवाह हो गए हैं। उन्होंने कहा कि खुद को संयमित रखना समय की मांग है।

मनोरोग केंद्र बनाने का किया अनुरोध

कमल हासन ने कहा कि पीड़ितों को सावधान रहना होगा और अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखना होगा। कमल हासन ने प्रदेश सरकार से मनोरोग केंद्र बनाने का अनुरोध किया है ताकि पीड़ितों को इस त्रासदी से बाहर निकालने में परामर्श दिया जा सके।

अभी क्या हैं हालत?

गौरतलब है कि कल्लकुरिची अवैध शराब त्रासदी में अभी तक तमिलनाडु के चार अस्पतालों में कुल 216 मरीज भर्ती हैं और सबसे ज्यादा मौतें कल्लकुरिची मेडिकल कॉलेज में हुईं हैं, जहां मृतकों की संख्या बढ़कर 31 हो गई है. तमिलनाडु राज्य सरकार ने सेवानिवृत्त न्यायाधीश जस्टिस बी गोकुलदास के नेतृत्व में न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं. तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने प्रत्येक मृतक के परिजनों को 10 लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की और इलाज करा रहे व्यक्तियों को 50 हजार रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की है.

भाजपा ने कांग्रेस और इंडिया गढ़बंधन पर बोला हमला

इधर, बीजेपी नेता संबित पात्रा ने इस मुद्दे पर राहुल गांधी, सोनिया गांधी सहित इंडिया गठबंधन के नेताओं की चुप्पी पर सवाल उठाया है. मीडिया से बात करते हुए पात्रा ने यह कहा कि 56 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 200 से ज्यादा लोग अभी भी अस्पताल में भर्ती है. उनमें से कईयों की हालत अभी भी गंभीर है. पात्रा ने कहा इतने गंभीर मुद्दे पर भी कांग्रेस और इंडिया गठबंधन की चुप्पी नहीं टूटी है. उन्होंने कहा कि अगर इस देश में 32 से ज्यादा दलितों की मृत्यु हो जाती है तो मैं इसे हत्या कहूंगा, ये मृत्यु नहीं है.

 

ये भी पढ़ें-प्रोटेम स्पीकर चुनाव से कांग्रेस नाराज, सांसदों के शपथ ग्रहण के दौरान नहीं करेगी सहयोग

 

 

RELATED LATEST NEWS