Download Our App

Follow us

Home » भारत » विपक्ष स्पीकर उम्मीदवार को समर्थन देने के लिए तैयार है, लेकिन डिप्टी स्पीकर हमारा होना चाहिए: राहुल गांधी

विपक्ष स्पीकर उम्मीदवार को समर्थन देने के लिए तैयार है, लेकिन डिप्टी स्पीकर हमारा होना चाहिए: राहुल गांधी

संसद के निचले सदन के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष पद के लिए आम सहमति बनाने के लिए वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा सरकार की ओर से विपक्षी नेताओं से संपर्क करने के बाद, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि उन्होंने राजनाथ सिंह को विपक्ष से अवगत करा दिया है. एनडीए के स्पीकर उम्मीदवार को समर्थन देने को तैयार है, लेकिन डिप्टी स्पीकर का पद विपक्ष को दिया जाना चाहिए.

मंगलवार को मीडिया से बातचीत में राहुल ने कहा, “हमने राजनाथ सिंह से कहा है कि हम उनके स्पीकर (उम्मीदवार) का समर्थन करेंगे, लेकिन परंपरा यही है कि डिप्टी स्पीकर का पद विपक्ष को दिया जाए.”

विपक्षी नेताओं का अपमान हो रहा है- राहुल

इसके अलावा, राजनाथ सिंह और कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के बीच हुई बातचीत के बारे में विस्तार से बताते हुए राहुल ने यह भी आरोप लगाया कि विपक्षी नेताओं का अपमान हो रहा है.

राहुल गांधी ने कहा, “आज अख़बार में लिखा है कि पीएम मोदी ने कहा है कि विपक्ष को रचनात्मक रूप से सरकार के साथ सहयोग करना चाहिए. राजनाथ सिंह ने मल्लिकार्जुन खड़गे को फोन किया और उन्होंने स्पीकर को समर्थन देने के लिए कहा. पूरे विपक्ष ने कहा कि हम स्पीकर का समर्थन करेंगे, लेकिन परंपरा यह है कि डिप्टी स्पीकर का पद विपक्ष को दिया जाना चाहिए.”

यदि विपक्षी इंडिया गुट इस पद के लिए अपने उम्मीदवार की घोषणा करता है, तो यह पहली बार होगा कि निचले सदन के अध्यक्ष के लिए चुनाव होंगे. आजादी के बाद से लोकसभा अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का चुनाव सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच आम सहमति से होता रहा है.

लोकसभा अध्यक्ष का चुनाव 26 जून को किया जाएगा. 27 जून को राष्ट्रपति मुर्मू संसद के दोनों सदनों की संयुक्त बैठक को संबोधित करने वाले हैं. 543 सदस्यीय लोकसभा में 293 सांसदों वाले एनडीए को स्पष्ट बहुमत प्राप्त है. विपक्षी इंडिया ब्लॉक के पास 234 सांसद हैं.

 

ये भी पढ़ें-दिल्ली excise policy case: केजरीवाल को SC से नही मिली राहत, याचिका 26 जून तक के लिए स्थगित

 

 

 

RELATED LATEST NEWS