Download Our App

Follow us

Home » भारत » यूपी के हाथरस में सत्संग में भगदड़, 122 की मौत, 150 घायल

यूपी के हाथरस में सत्संग में भगदड़, 122 की मौत, 150 घायल

यूपी के हाथरस में भोले बाबा के सत्संग के दौरान भगदड़ मच गई। इसमें 122 लोगों की मौत हो गई। 150 से अधिक घायल हैं। कई लोगों की हालत गंभीर है। मृतकों की संख्या बढ़ सकती है। हादसा हाथरस जिले से 47 किमी दूर फुलरई गांव में हुआ है।

हादसे के बाद जैसे-तैसे घायलों और मृतकों को बस-टैंपो में लादकर अस्पताल ले जाया गया। CM योगी ने मुख्य सचिव मनोज सिंह और DGP प्रशांत कुमार को घटनास्थल के लिए रवाना कर दिया। घटना की जांच के लिए ADG आगरा और अलीगढ़ कमिश्नर की टीम बनाई है।

जानकारी के अनुसार हाथरस जनपद क़े सिकंदराराऊ थाना छेत्र क़े फुलरई गांव में चल रहे भोले बाबा क़े सत्संग में भगदड़ मच गई. इस दौरान अनेकों श्रद्धालुओं की मौत हो गई. मृतकों की डेड बॉडी एटा मेडीकल कॉलेज पहुंची।

राकेश प्रताप सिंह ने कहा कि ये भोले बाबा क़े सत्संग में हाथरस जनपद क़े सिकंदराराऊ थाना छेत्र क़े फुलरई गाब में हादसा हुआ है जिसमे कई लोगों की मौत बताई जा रही है.

डीएम ने कहा-एसडीएम ने कार्यक्रम की अनुमति दी थी

डीएम ने बताया कि एसडीएम ने कार्यक्रम की अनुमति दी थी। यह एक प्राइवेट कार्यक्रम था। अभी मृतकों का पूरा आंकड़ा पता नहीं चला है। 50 से 60 के करीब मृतक संख्या बताई जा रही है।

पुलिस की ड्यूटी सुरक्षा के लिए लगाई गई थी। अंदर की व्यवस्था आयोजकों द्वारा की जानी थी। सीनियर अधिकारी को जांच के लिए लगाया गया है। मैं अभी ज्यादा बताने की स्थिति में नहीं हूं। अभी इलाज हमारी प्राथमिकता है। जांच की जा रही है।

मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख के मुआवजे का ऐलान

सीएम योगी ने मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख और घायलों को 50-50 हजार की आर्थिक सहायता देने के निर्देश दिए हैं।

सरकारी अस्पताल फुल, प्राइवेट रिजर्व किए गए

हादसे के बाद इतने घायल पहुंचे कि सरकारी अस्पताल फुल हो गए। सीएचसी के बाहर कुछ लोग तड़पते हुए नजर आए। हाथरस प्रशासन ने प्राइवेट अस्पतालों को अलर्ट कर दिया है। सभी से बेड रिजर्व रखने को कहा है। घायल को अब प्राइवेट अस्पताल ले जाया गया है। मौके पर हालात बेकाबू हैं। हर कोई भीड़ और लाशों के बीच अपनों को तलाश रहा है।

भगदड़ क्यों मची?

सत्संग खत्म हो गया था। एक साथ लोग निकल रहे थे। हॉल छोटा था। गेट भी पतला था। पहले निकलने के चक्कर में भगदड़ मच गई। लोग एक दूसरे पर गिर पड़े। ज्यादातर महिलाएं और बच्चे थे। इस वजह से 150 से अधिक लोग घायल हो गए।

 

यह भी पढ़ें-  जुलाई में जमकर होगी बारिश, IMD ने जारी किया अलर्ट

 

 

RELATED LATEST NEWS